भारतीय गौरव मुर्रा भैंस


उत्पत्ति – हरियाणा के दक्षिणी हिस्सों में जिसमे से रोहतक, जिंद, हिसार, झज्जर, गुड़गांव जिले के शामिल हैं। और दिल्ली केन्द्र शासित प्रदेश।
विशेषताएं/विशिष्ट लक्षण
शरीर – भारी और पतवार के आकार का।
शरीर का रंग – स्याह काला रंग चेहरे और पैर के किनारों पर सफेद चिह्नों या बाल पाये जाते है।
शारीरिक वजनः सांड का औसत वजन 550 किलोग्राम और गाय का 450 किलोग्राम।
सिर – तुलनात्मक रूप से छोटा।
चेहरा और गर्दन – तुलनात्मक रूप से लंबा।
कान – छोटे, पतले और सतर्क और लटके हुये।
आंखें – गाय में काले, सक्रिय और स्पष्ट लेकिन सांड में थोड़ा सिकुड़े हुये ।
सींग – छोटे और तंग, पीछेे और ऊपर की तरफ घुमावदार और अंदर मुडे हुये।
पूँछ – काली, लम्बी सफेद बालों के गुच्छों के साथ फेटलाक तक पहुंचती है।
पैर – तुलनात्मक रूप से छोटे लेकिन मजबूत।
थन – पूरी तरह से विकसित, झुके हुये।
दुग्ध उत्पादन क्षमता – प्रति ब्यात 2200 लीटर दुग्ध उत्पादन अवधि 300 दिन। शिखर में औसत दैनिक दुग्ध उत्पादन 14 से 15 लीटर प्रतिदिन।